प्लास्टिक कचरे से टाइल्स बनाएंगे कश्मीर के ये मेधावी

0
41
राजौरी के डीसी के साथ सिलेक्टेड युवा (तस्वीर- ट्विटर)

राजौरी। पिछले कुछ महीनों से सेना-आतंकियों की मुठभेड़ और तनाव के लिए ज्यादा चर्चा में रहने वाले कश्मीर से एक दिल खुश करने वाली खबर सामने आई है। जम्मू-कश्मीर के राजौरी में बीते दिनों एक विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन किया था, जहां से जिला प्रशासन ने कुछ ऐसे युवाओं को सिलेक्ट किया है जो प्लास्टिक कचरे से टाइल्स बनाएंगे।
राजौरी के डेप्युटी कमिश्नर शाहिद चौधरी ने ट्विटर पर यह जानकारी दी। सिलेक्टेड युवाओं के साथ तस्वीर शेयर कर शाहिद ने लिखा, ‘साइंस एक्सिबिशन से सुदूर गांव कालाकोट के रहने वाले इन प्रतिभाशाली युवाओं को सिलेक्ट किया है। हम मिलकर वेस्ट प्लास्टिक से टाइल्स बनाएंगे।’


शाहिद ट्विटर पर काफी सक्रिय हैं और अक्सर घाटी की ऐसी सकारात्मक कहानियां सोशल मीडिया पर शेयर करते रहते हैं। शाहिद 2009 बैच के जम्मू-कश्मीर कैडर के आईएएस ऑफिसर हैं और इस समय राजौरी के डेप्युटी कमिश्नर हैं। 34 वर्षीय शाहिद को साल 2015 में उत्कृष्ट प्रशासनिक सेवा के लिए प्रधानमंत्री ने पुरस्कृत किया था। शाहिद यह प्रतिष्ठित अवॉर्ड पाने वाले सबसे कम उम्र के आईएएस अफसर हैं।