10 गुना अधिक परमाणु हथियार चाह रहे अमेरिकी राष्ट्रपति?

0
58

वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और स्थानीय मीडिया का टकराव एक बार फिर सामने आया है। अमेरिका की एक न्यूज एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया कि ट्रंप ने अपने जनरलों से कहा है कि उन्हें अमेरिकी परमाणु हथियारों में 10 गुनी वृद्धि चाहिए। ट्रंप और पेंटागन, दोनों ने ही इस रिपोर्ट को खारिज कर दिया है। ट्रंप ने कहा है कि वह मिलिटरी के आधुनिकीकरण की बात कर रहे थे।
एनबीसी न्यूज ने अपने रिपोर्ट में दावा किया था कि जुलाई में ट्रंप ने अपने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों को परमाणु हथियार बढ़ाने को कहा था। रिपोर्ट के मुताबिक ट्रंप ने वर्तमान संख्या से 10 गुना अधिक परमाणु हथियार बढ़ाने की बात कही थी। अमेरिका के पास फिलहाल 4000 परमाणु हथियार हैं। 1960 में अमेरिका के पास 32000 परमाणु हथियार थे। रिपोर्ट के मुताबिक ट्रंप का आदेश अमेरिका की क्षमता को 1960 की ही स्थिति तक पहुंचाने का था।
बुधवार को यह रिपोर्ट सामने आने के बाद विवाद हो गया। वाइट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए ट्रंप ने इस रिपोर्ट को झूठा ठहराया। ट्रंप ने कहा कि मैंने कभी भी परमाणु हथियारों को बढ़ाने के लिए नहीं कहा, एनबीसी की न्यूज फेक है। उन्होंने कहा कि मैंने आधुनिकीकरण की बात कही थी। बाद में अमेरिका के डिफेंस सेक्रटरी जिम मैटिस ने भी इस रिपोर्ट को खारिज किया।
एनबीसी की यह रिपोर्ट ऐसे समय आई है जब अमेरिका और नॉर्थ कोरिया के बीच तनाव चरम पर है। इसके अलावा ईरान के परमाणु कार्यक्रमों को लेकर भी अमेरिका खफा है। ऐसी आशंका है कि ट्रंप ईरान के साथ 2015 के ऐतिहासिक परमाणु करार को तोड़ने की भी घोषणा कर सकते हैं। ईरान ने भी इसपर कड़ी प्रतिक्रिया देने की धमकी दे दी है।