ब्लू व्हेल पर सुप्रीम कोर्ट ने मांगा केंद्र से जवाब

0
30

नई दिल्ली: ब्लू व्हेल के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से जवाब मांगा है। सरकार को तीन सप्ताह के भीतर अपना पक्ष अदालत में रखना होगा। इस मामले में अटार्नी जनरल केके वेणुगोपाल अदालत की मदद करेंगे।
उल्लेखनीय है कि ब्लू व्हेल पर प्रतिबंध के लिए 73 वर्षीय वृद्ध सुप्रीम कोर्ट पहुंचे थे। उनका कहना है कि इसे तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित करना चाहिए, क्योंकि युवा वर्ग इसके जरिये खुदकशी जैसा कदम उठा रहा है।
चीफ जस्टिस दीपक मिश्र, जस्टिस एएम खानविलकर व जस्टिस डीवाई चंद्रचूड की पीठ ने याचिका को सुनवाई के लिए स्वीकृत कर लिया था। याचिका में यह भी मांग की गई है कि ब्लू व्हेल के खिलाफ लोगों के बीच जागरूकता अभियान चलाया जाए। इसमें कहा गया कि पांच सितंबर तक ही इसकी वजह से दे सौ युवा आत्महत्या कर चुके हैं। इनमें से ज्यादातर 13, 14 व 15 साल की उम्र के थे। ऑनलाइन खेल के दौरान इन्होंने आत्मघाती कदम उठाया। वृद्ध का कहना है कि मदुरै पुलिस ने माना है कि एक युवा ने आत्महत्या से पहले 150 दोस्तों को इसे फारवर्ड कर दिया था। दिल्ली हाई कोर्ट ने 22 अगस्त को गुगल व याहू से इस पर जवाब तलब किया था।