पराठा अटकने से गई बच्चे की जान

0
42

नई दिल्ली:आउटर दिल्ली के रणहौला इलाके में शुक्रवार सुबह डेढ़ साल के बच्चे की संदिग्ध हालात में घर के अंदर मौत हो गई। बच्चे का नाम विवान था। पहले परिवार वाले नजदीक के हॉस्पिटल में ले गए, फिर वहां से दीनदयाल उपाध्याय हॉस्पिटल में ले जाया गया। कल दोपहर बाद बच्चे की बॉडी का पोस्टमॉर्टम करने के बाद शव को परिवार वालों को सौंप दिया गया।
बच्चे के दादा ने हॉस्पिटल में बताया कि उसकी मां ने पराठा बनाया था। इसका एक टुकड़ा बच्चे ने निगल लिया। यह उसके गले मे फंस गया और उसके बाद उसका शरीर अकड़ गया। उसे लेकर परिजन हॉस्पिटल भागे जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
बच्चे की दादी ने घर में बताया कि जब उन्होंने बच्चे को देखा तो उसके हांथ में पराठे का टुकड़ा था और उसका शरीर अकड़ा हुआ था। बच्चे के परिवार वाले रणहौला की विकास नगर कॉलोनी में रहते हैं। विवान उनका इकलौता बेटा था। रणहौला पुलिस का कहना है कि उन्हें दीनदयाल उपाध्याय हॉस्पिटल से सूचना मिली कि एक बच्चे को लाया गया है, जिसकी मौत हो चुकी है। पुलिस को बताया गया है कि पराठा गले में अटकने से बच्चे की मौत हुई है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का हम इंतजार कर रहे हैं। डीसीपी पंकज कुमार से पुलिस जांच के बारे में पूछने की कोशिश की गई, लेकिन उनसे सम्पर्क नहीं हो सका।