पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने दिया इमरान खान को गिरफ्तार करने का आदेश

0
43

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने पुलिस को तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के मुखिया इमरान खान को अरेस्ट कर 25 सितंबर तक पेश करने का आदेश दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अवमानना के एक मामले में चुनाव आयोग ने इमरान खान के खिलाफ यह आदेश जारी किया है। ‘डॉन’ की रिपोर्ट के मुताबिक इस्लामाबाद के एसएसपी (ऑपरेशंस) को लिखे खत में चुनाव आयोग ने कहा कि इमरान खान जनप्रतिनिधित्व कानून, 1976 के तहत आयोग की अवमानना के आरोपी हैं। पीटीआई के पूर्व नेता अकबर एस. बाबर की याचिका पर चुनाव आयोग ने अगस्त में ही इमरान खान को कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

इमरान की पार्टी पर विदेशों से अवैध फंडिंग लेने का मामला भी कोर्ट में लंबित है, जिसमें मुख्य याचिकाकार्ता अकबर एस. बाबर ही हैं। पार्टी के खातों के बारे में विस्तार से जानकारी देने से इनकार करने और आयोग को ही ‘पूर्वाग्रह से ग्रस्त’ बताने के बाद पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने इमरान खान को नोटिस जारी किया था। आयोग ने क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान को 14 सितंबर को पेश होने के लिए कहा था, लेकिन वह नहीं पहुंचे। गुरुवार को आयोग की बेंच के समक्ष इमरान के वकील ने कहा था कि उनके क्लाइंट आयोग के समक्ष पेश होने को तैयार हैं, लेकिन एक घंटे पहले ही विदेश से लौटने के चलते नहीं आ पाए।

इमरान के वकील के तर्कों से असंतुष्ट आयोग ने कहा उनके खिलाफ जमानती वॉरंट जारी करते हुए उन्हें 25 सितंबर को पेश होने के लिए कहा। वहीं, पुलिस से कहा कि वह सुनिश्चित करे कि उन्हें पेश किया जा सके। आयोग के अडिशनल डायरेक्टर जनरल (कानून व्यवस्था) मलिक मुज्तबा अहमद ने कहा, ‘पुलिस को आदेश दिया जाता है कि वह मिस्टर इमरान खान नियाजी को अरेस्ट करे और 25 सितंबर से पहले आयोग के समक्ष पेश करे।’