गुजरात में ‘विकास पागल हो गया’ की धूम, भाजपा परेशान

0
60

अहमदाबाद। गुजरात के मुख्यमंत्री रहने के दौरान नरेंद्र मोदी ने विकास के मुद्दे के जरिए काफी कामयाबी पाई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लड़े गए सन 2014 के आम चुनाव में भी विकास प्रमुख मुद्दा रहा है। हाल ही में एक गुजराती युवक ने सोशल मीडिया पर अपनी एक मजेदार पोस्ट में, विकास के इस मुद्दे को इस तरह बदल दिया कि अब यह काग्रेस के प्रचार अभियान का मुख्य हथियार बन गया है।
युवक ने सोशल मीडिया पर लिखा, ‘विकास पागल हो गया है।’ एक पाटीदार युवक सागर सावलिया ने फेसबुक पर एक फोटो डाली और इसके बाद से यह सब शुरू हुआ। इस पोस्ट में एक सरकारी बस और टूटे हुए टायर दिख रहे हैं। इसमें गुजराती में कैप्शन लिखा है, ‘सरकारी बसें हमारी हैं लेकिन इनमें चढ़ने के बाद आपकी सुरक्षा की जिम्मेदारी आपकी है। जहां हैं वहीं रहिए विकास पागल हो गया है।’ 20 साल के सावलिया इंजीनियरिंग छात्र हैं और वे बेफामन्यूज नाम से वेबसाइट चलाते हैं। वे पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के सक्रिय सदस्य हैं और हार्दिक पटेल के करीबी हैं। उन्होंने स्वीकार किया, ‘हां, मैंने ही इस मुहावरे को बनाया है। ईमानदारी से कहूं तो मुझे यह अनुमान नहीं था कि यह इतना मशहूर हो जाएगा।’
गुजरात कांग्रेस ने तुरंत ही इस मौके को भुनाते हुए सैंकड़ों लतीफे बना डाले। इसकी टैगलाइन है, ‘विकास पागल हो गया है।’ गुजरात विधानसभा के चुनाव इसी साल होने हैं और इससे पहले इस तरह से सोशल मीडिया पर पार्टी के मजाक उड़ने से अमित शाह का सिरदर्द बढ़ा दिया है। पिछले सप्ताह अमित शाह ने गुजरात के युवाओं से भाजपा विरोधी प्रचार पर ध्यान नहीं देने को कहा था। रोचक बात यह है कि कभी भाजपा ने इसी तरह से विपक्षी पार्टियों को निशाना बनाना शुरू किया था। अब खुद निशाना बन रही है।
गुजरात कांग्रेस ने ढाई मिनट का एक वीडियो भी बनाया है जिसकी थीम ‘विकास पागल हो गया है’ रखी गई है। वहीं गुजरात कांग्रेस की आईटी सेल का दावा है कि उनके वॉलंटियर्स ने इस मुहावरे को शुरू किया है। गुजरात कांग्रेस की आईटी सेल के प्रमुख रोहन गुप्ता ने बताया, ‘हां, पाटीदार विकास पागल हो गया है। मुहावरे को जोरदार तरीके से काम में ले रहे हैं। इसे सबसे पहले हमारे वॉलंटियर्स ने अगस्त में बनाया था। इसके बाद से एक फेसबुक पेज पर 75 हजार लाइक हो चुके हैं।’ इधर, भाजपा अपने तरीके से इस पर बचाव कर रही है। गुजरात भाजपा के अध्यक्ष जीतू वाघाणी से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया, ‘कम से कम गुजरात में विकास पर बात तो हो रही है। कांग्रेस शासन वाले राज्यों में तो केवल भ्रष्टाचार की ही चर्चा होती है।’