इलेक्‍ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफार्म के लिए ड्राफ्ट जारी

0
29

नई दिल्ली:एजेंसी।फाइनेंशियल मार्केट उपकरणों  में पारदर्शिता बनाए रखने के लिए RBI ने इलेक्ट्रानिक ट्रेडिंग प्लेटफार्म, (ETP)बनाने के लिए ड्राफ्ट जारी किया है। ड्राफ्ट के निर्देशों के अनुसार भारत में ETP ऑपरेटर के पास प्रंबंधकीय और ऑपरेशनल कंट्रोल का पूरा हक होगा। अगर कोई विदेशी शेयरहोल्डिंग होगी तो उसमें भी ETP ऑपरेटर के तहत फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट 1999 समेत हर तरह के लॉ और रेग्युलेशन का पालन करना होगा ।
मौजूदाETP को भी लेनी होगी परमीशन 
ड्राफ्ट में कहा गया कि ऑपरेटर के पास कम से कम 25 करोड़ की इक्विटी होनी जरूरी है। ड्राफ्ट के फ्रेमवर्क में एलिजिबिलटी मापदंड समेत, टक्नोलॉजी, और रिपोर्टिंग स्टेंडर्ड शामिल हैं  । मौजूदा ईटीपी को भी इन निर्देशों के तहत 6 महीनों के अंदर ऑथराइजेशन लेना होगा।
 RBI ने ड्राफ्ट के बारे में मांगी राय
आरबीआई ने मार्केट में हिस्‍सा ले रहीं इच्छुक पार्टियों से इस ड्राफ्ट के बारे में 10 नवंबर तक उनकी राय मांगी है। इलेक्ट्रानिक प्लेटफॉर्म पर ट्रेडिंग दुनियाभर में प्रोत्साहित की जा रही है। इलेक्ट्रानिक प्लेटफॉर्म के चलते प्राइसिंग में पारदर्शिता समेत रिस्क कंट्रोल रहता है ।
 अप्रूवल के ईटीपी में मेनटेन होगी जानकारी 
ऑनबोर्ड मेंमबर का अप्रूवल मिलने के बाद ईटीपी में सभी मेंमबर की जानकारियों को मेनटेन किया जाएगा। साथ ही ये तय किया जाएगा की सभी ट्रेडर्स ड्राफ्ट के प्रावधानों के तहत काम करें  ।

Source: Shilpkar